उ०प्र० शासन से 9 नवंबर को हुई वार्ता के कुछ महत्वपूर्ण निर्णय

उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ द्वारा 13 सूत्रीय मांगों को लेकर शासन को 15 नवंबर को धरना प्रदर्शन का अल्टीमेटम दिया गया था। उन 13 सूत्रीय मांगो के लिए शासन द्वारा 9 नवंबर को संगठन पदाधिकारियों को वार्ता हेतु बुलाया गया। कई घंटो चली वार्ता का परिणाम उत्साहजनक रहा। मांगों के प्रति शासन का रुख सकारात्मक रहा। वार्ता मैं कई मत्वपूर्ण निर्णयों मैं सहमति बनी।

वार्ता के कुछ महत्वपूर्ण निर्णय
  • एरियर शासन से पुनरीक्षित वेतनमान के एरियर, दो साल के बोनस का एरियर, महगाई भत्ते का एरियर, नवनियुक्त शिक्षकों के एरियर के अतिशीघ्र भुगतान हेतु बजट भेजने के निर्देश जारी करने पर सहमति बनी।
  • प्र०अ०, प्रा० वि० व पू० मा० स० अ० के न्यूनतम वेतनमान 17140 व पू0 मा0 के प्र0अ0 के न्यूनतम वेतनमान 18150 के लिए राजाज्ञा जारी करने हेतु सहमति बन गयी। राजाज्ञा शीघ्र जारी करने के निर्देश दे दिए गए हैं।
  • प्राथमिक विद्यालयों मैं जो समय परिवर्तन हुआ था उसे पुनः 10 से 4 करने के लिए राजाज्ञा जारी करने हेतु निर्देश दे दिए गए हैं।
  • जीवन बीमा पॉलिसी ( Revised) पे ग्रेड आधारित कर दिया गया है. बढ़ी हुयी किस्त कटौती के लिए प्रस्ताव L.I.C. को भेजा जा रहा है।
  • अंशदान पेंशन योजना के अंतर्गत जो विभागीय निर्देश दिए गए थे उनके लिए विभागीय राजाज्ञा अतिशीघ्र जारी की जायेगी। जिसका क्रियान्वन इसी वित्तवर्ष होना सुनिशित कराया जायेगा।
  • समस्त शिक्षकों के स्वास्थ्य बीमा के लिए सम्बंधित स्वास्थ्य बीमा कंपनियों से निविदा आमंत्रण करने की राजाज्ञा अतिशीघ्र शासन स्तर पर जारी किये जाने की सहमति बनी जिसका क्रियान्वन इसी वित्तवर्ष होना सुनिशित कराया जायेगा।


    स्पष्टतय: इस वार्ता मैं 13 सूत्रीय मांगों पर सार्थक परिणाम निकले। सभी 13 सूत्रीय मांगों की क्रियान्वन समीक्षा हेतु शासन ने 15 दिसंबर को पुनः संघटन पदाधिकारियों की बैठक आहूत की है। 
वार्ता में शासन की ओर से प्रमुख सचिव शिक्षा श्री अनिल संत, बेसिक शिक्षा निदेशक श्री दिनेश चंद्र कनौजिया ,सचिव बेसिक शिक्षा श्री आई पी शर्मा ,वित्त नियंत्रक व विशेष सचिव शिक्षा और संगठन पदाधिकारियों में श्री अभिमन्यु प्रसाद तिवारी संरक्षक उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ, श्री जगदीश चंद्र पाण्डेय प्रदेश अध्यक्ष, उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ, श्री सुशील कुमार पाण्डेय महामंत्री, उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ,श्री लल्लन मिश्र प्रदेश उपाध्यक्ष उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ आदि उपस्थित रहे।
जय शिक्षक.......जय भारत

एक टिप्पणी भेजें